Blogs

underline
What should you do Deceived by a Friend?

What should you do Deceived by a Friend?

जब आप किसी से प्यार करते है या किसी के साथ रिलेशन मैं होते है तो वो शक्स आपकी जिन्दगी से जुड़ी हर चीज में शामिल हो जाता है या यु कहे कि आपको उसकी आदत हो जाती  है वो शख्स आपकी दिनचर्या  मैं शामिल हो जाता है कि उसे देखे बिना या उससे बात किये बिना एक दिन भी रहना मुशिकल हो जाता है जब हम किसी से प्यार करते है तो हम हर वो काम करना चाहते है जिससे उसको ख़ुशी मिले उस पर खुद से भी ज्यादा भरोसा होने लगता है उसकी कमिया उसकी गलतिया हमें दिखाई नहीं देती लेकिन जब वही शख्स जिसे हम जी जान से भी ज्यादा प्यार करते है वो हमारे भरोसे को तोड़ कर हमारे दिल, हमारी भावनाओ से खेल कर हमें धोका देकर किसी और के पास चला जाता है तब वह वक़्त बहुत ही बुरा होता है | उस वक़्त इन्सान बहुत ही ज्यादा दुखी हो जाता है जल्दी से इस बात पर भरोसा नही होता कि उसने हमारा दिल तोड़ दिया है या हमें धोका दिया है|                                                                                                            

आज मैं आपको अपने अनुभव के आधार पर आपको बता रही हु कि दोस्ती मैं धोका मिलने के दर्द से बाहर निकलने के लिए क्या करना चाहिए|  

1 सच्चाई को सवीकार करे: जिससे आप प्यार करते थे बेशक उसके साथ आपका भावनात्मक सम्बन्ध बहुत ही अच्छा और मजबूत था और बेशक वो शख्स आपकी जिन्दगी के हर एक पल मे  शामिल था लेकिन अब हकीकत कुछ और है अब स्तिथि बदल चुकी है इस सच्चाई को स्वीकार करे कि आपका रिश्ता अब ख़तम हो चूका है वो शख्स आपसे दूर जा चूका है वो शख्स अब आपकी जिन्दगी मे वापिस नही आ सकता आपको  अपनी सारी जिन्दगी अब उसके बिना ही गुजारनी पड़ेगी इसलिये जल्दी से जल्दी उसे भुला कर अपनी एनर्जी अपना समय और अपना ध्यान अपने सपनो को पूरा करने मे लगाओ|                       

2 पुरानीं बातो को बार बार न दोहराये : अगर आप बार बार पुरानी बातो को याद करेंगे तो आप ज्यादा परेशान होंगे और अपने दर्द को और बढ़ा लेंगे इसलिए उसे और उससे जुड़ी बातो को जल्दी से जल्दी भूलने की कोशिश करे हर समय उसके बारे मे न सोच कर अपने सपनो को पूरा करने के बारे मे सोचे| 

3 उससे जुड़ी हर चीज़ को हटा दे:  जब आपका दोस्त आपको छोड़ कर चला गया है उसने आपका भरोसा तोड़ दिया है तो फिर उससे जुड़ी चीजों को अपने पास रखने का क्या फायदा जब जब उससे जुड़ी चीज़े आपके सामने आएगी तब हर बार आप दुखी होंगे ऐसा करने से आपको थोड़ी तकलीफ ज़रूर होगी लेकिन आने वाले समय में आपको बहुत फायदा होगा |

4 उसके जाने का अफ़सोस न करे: दिल तोड़ कर जाने वाले का क्या अफ़सोस करे | अफ़सोस तो उसका किया जाता है जो आपकी भावनाओ को समझे आपको ख़ुशी खुशिया दे | जो आपकी भावनाओ को समझे ही नहीं उसका ज़िक्र क्या करना | इसलिए ऐसे धोखे बाजों को दिल और दिमाग से निकाल कर फैक दो और अफ़सोस करने की बजाए अपने आप को मजबूत बनाओ और जिन्दगी में आगे बढ़ो |

5 सकारात्मक सोच रखे: हर बात के दो पहलु होते है सकारात्मक और नकारात्मक | आप किसी भी चीज़ के जिस पहलु पर ज्यादा ध्यान देते है आपकी सोच वैसी हो जाती है हालांकि दिल टूटने के मामले मे ज्यादातर लोग नकारात्मक का शिकार हो जाते है फिर भी आप थोड़े से प्रयास से नकारात्मक सिथति का शिकार होने से बच सकते है अकेले न रहे और अपनी बातो को शेयर करे खुद को व्यस्त रखे कुछ नया काम शुरू करे खुद को दोष न दे और न ही खुद को कोई सजा दे उसका कुछ बुरा न करे और न ही किसी तरह का कोई नशा करे | अपने आप को इस दर्द से बाहर निकालते हुए अपने सपनो को पूरा करने के लिए निडर हो कर आगे बढ़गे तो सफलता आपके कदम चूमेगी |

एक प्राथना :दिल तोड़ देना किसी के लिए खेल हो सकता है लेकिन एक बात का ध्यान रखे कि दिल टूटने पर उसका दिल ही नही टूटता बल्कि उसके बहुत से ख्वाब , कई अरमान ,उसकी खवाहिश ,उसकी खुशिया उसका भरोसा बहुत कुछ टूट जाता है जिसकी भरपाई करना बहुत मुश्किल होता है एक बार टुटा हुआ दिल बड़ी मुश्किल से जुड़ता है कभी कभी तो इसका दर्द जिन्दगी भर रहता है | 

किसी भी समय जरूरत पड़ने आप काउंसलर की सलाह लेने से डरे नहीं ऑन्लाइन अपना काउंसलर बुक करने के लिए www.myfitbrain.in पर  सम्पर्क करे |


Related Blogs